अब दौलत बनाना हुआ आसान

आज आप बहुत से लोगो सुनते होगे कि पैसा सब मोह -माया है । यही सारी परेशानियों का जड़ है ।   जितना पैसा होगा उतनी ही परेशानियां आएगी । अगर आप भी ऐसा सोचते है तो मै आत्मविश्वास के साथ कह सकता हूं कि आप कड़के , गरीब है।


<!– –>

एक बार जान लीजिए की आप अगर जिससे भी इष्या करते है वह चीजे आपसे दूर चली जाती है । इसलिए अगर आपको दौलत चाहिए तो दौलत से प्यार करना होगा तब जाकर दौलत अपने पास आयेगा ।  

एक बात और जब हम दौलतमंद इंसान को देखते है तो हम उससे ईश्या या उसके बारे में भला बुरा कहने लगते है तब भी हमे ऐसा नहीं करना चाहिए बल्कि हमे ख़ुश होना चाहिए और उसे मन ही मन दौलतमंद होने के लिए धन्यवाद देनी चाहिए।

हमे पहले  दौलत और आमदनी के बारे में जानना होगा तब जाकर हम हम समझ पाएंगे। दौलत बनाने का मतलब यह है कि आपके पास इतना समय और पैसा होना कि आप जो चाहें , जब चाहे वो के सके।


<!– –>

आमदनी के साथ दिक्कत यह है कि आदमी  छोटी- छोटी बचत कर मकान खरीदता है और रिटायरमेंट होता है ।वह इसमें आपनी आधी जिन्दगी लगा देता है। इसे गवाने के लिए छह महीने की बेरोज़गारी ही काफी है।

एक महान व्यक्ती ने कहा था कि अगर आपको दौलतमंद बनना है कुछ ऐसे लोगो को चुनो को दौलतमंद हो और वे जो कर रहे हो तुम भी वही करो। सबसे पहले दौलतमंद होने के लिए हमें विचार करना होगा और हम दौलतमंद होने के लिए हम क्या देंगे क्योंकि इस दुनिया में कुछ भी मुफ्त हनी है । यहां तक की हमे सास लेने के लिए सांस छोड़ना पड़ता है ।

इस समय दौलत  कमाना  इतना आसान है कि आप इसे आसानी से प्राप्त कर सकते है। बस आपको दौलतमंद बने लोगो की नकल करनी है ।  दौलतमंद होना सिर्फ अंकों का खेल है। यह ऐसे है कि अगर आपको मिलिनेयर बनना है तो बस करना यह है कि आपको एक 1 रुपए का कोई प्रोडक्ट दस लाख लोगो को बेचना होगा तब आप मिलिनेयर बन जायेगे। चाहे आप यह काम एक दिन में कर दीजिए या एक साल में या एक हफ्ते में।

आज देश के दौलतमंद लोगो की बात करे तो ये लोग क्या करते है ये हमे समझना होगा । अगर आपसे कोई कहे की आप कितना घंटा काम एक दिन में कर लगे तो आप कहेंगे कि आठ घंटा अगर आपकी कनपटी पर बंदूक रख के कहा जाय तो आप कितने घंटे काम कर लोगे तो आप बारह घंटे कर सकते है अगर आपसे जान से मार ही दिया जाएगा तब आप कितने घंटे काम करोगे ? आप कितना भी कर लो लेकिन आप एक  में चौबीस घंटे से ज्यादा नहीं का सकते है। अगर मै आपसे कहता हूं कि कोई व्यक्ती 8000 घंटे काम करता है तो आप क्या कहेंगे कि मै सही कह रहा हूं? या नहीं? 

अगर आपको लगता है कि मै गलत कह रहा हूं  तो  आपको पॉवर आफ नेटवर्क  के बारे में पता नहीं है । आज आप देख ले मुकेश अंबानी को उसके अंदर में अगर 1000 लोग भी काम कर रहे है तो वो एक दिन में आठ घंटे भी काम तो उसके लिए 8000  घंटे काम होगा । तो आप बताओ कि दौलतमंद कौन होगा ? इसे कहते लीवेरेजिंग कहते है जिसमें आप समय और पैसे का लिवरेजिंग करते है।


<!– –>

या तो आप अपने पैसे का बचत करके स्टॉक मार्केट , रियल स्टेट या mutual fund me अपना पैसा निवेश करके आप दौलतमंद हो सकते है जिसमें आपका पैसा आपके लिए काम करता है।

या आप  थोड़ा पैसे और अपने समय का निवेश करके  आप दौलतमंद हो सकते है उस इंडस्ट्री का नाम है नेटवर्क मार्केटिंग है।

Responses

Your email address will not be published.

+