Category Archives: Poems

रिश्ता यह कुछ खास है!

रिश्ता यह कुछ खास है!

खून के रिश्तों की मोहताज नहीं दोस्ती तो एक एहसास है परायों से अपनों तक का रिश्ता यह कुछ खास है दोस्ती की कामयाबी देख बढ़ रहा अच्छाई पर विश्वास है शक से भरोसे तक का रिश्ता यह कुछ खास है मीलों दूर रहते हुए भी दिलों के वो पास है अकेलेपन से साथ तक…

एक वृक्ष की कहानी

एक वृक्ष की कहानी

लाश तुम्हारी देखकर चिता यूं ही जल जाती है मेरी, जलता तुम्हें देख कर राख यूं ही बन जाती है मेरी। पल पल तुम्हें मरता कटता देख यूंही हार जाती हूं मैं,  हर दिन तुम्हारी ऐसी हालत देखकर आंखों में पानी लिए ही सो जाती हूं मैं।  ये जो हमने अपने आलीशान महल बुने हैं,…

माँ

माँ

वो जागी तुम्हे सुलाया खुद का होश नही पर तुम्हे खिलाया उसने पड़ने नही दिया कभी बुरा साया वो रोयी पर तुम्हे हसाया चोट तुम्हे लगती है दर्द उसे होता है जान तुम्हारी जाती है सांस उसे नही आती है दुनिया की मोहब्बत झूठी है झुठा है ये जहान माँ से मोहब्बत है करो बार…

मेरी मौत 

मेरी मौत 

 वो कहते हैं कि जिंदगी से प्यार करना चाहिए, पर मुझे तो अपनी मौत प्यारी है।  क्योंकि चाहती हूं मैं मरना एक तरीके से उसी मौत को पाने के लिए यह जिंदगी जी रही हूं किसी और से नहीं बल्कि हर दिन खुद से ही लड़ रही हूँ।  वह मौत ना मिली तो यह जिंदगी…

CAN LOVE HAPPEN AGAIN… WITH THE SAME PERSON?

CAN LOVE HAPPEN AGAIN… WITH THE SAME PERSON?

“Love” a small word with deep meaning of affection and attachment has its own place in every person’s heart. “LOVE” “Love” can happen with a living or non-living thing. It can happen irrespective of place, time, situation or anything else. To be particular we’ll talk about Love with living creatures. It can be your pet…

 वो पल , वो बीतें पल …

 वो पल , वो बीतें पल …

एक छोटी सी कहानी है, दो नादान परिंदो की, कुछ महफूज़ सी बाते हैं और ना जाने कितनी यादें है। इत्मीनान से बताती हूँ, धोरा घोर फरमाइयेगा , भावनाओं में बहते-बहते , डूबती नाव बचा लीजियेगा। <!–– –> वो पल , वो बीतें पल … वो  पल, वो बीतें पल…  वो पल , वो बीतें पल … जिनमे हम…