HOW TO WIN THE MARKETPLACE WITH THE BLUE OCEAN STRATEGY

आज के time में एक entrepreneur के लिए सबसे बङा challenge ये होता है कि वो कैसे खुद को अपने rivals से अलग बनाता है। अगर आप एक entrepreneur हो तो आपको ये सोचना चाहिए की कैसे आप इतने competition के चलते market में अपनी अलग पहचान बनाओगे। Consumers के पास बहुत सारे options हैं। आप ऐसा क्या करोगे की आपके customers आपके competitors की बजाय आपको choose करें। मेरे according, best way है blue ocean strategy का use करना।
पर ये blue ocean strategy क्या है? आप imagine कीजिए कि आप एक ऐसे environment में compete कर रहे हैं जहाँ बहुत competition है। ऐसे environment को हम red ocean कहते हैं क्यूंकि ऐसे environment में बहुत सारी sharks (market के बड़े और established players) होती हैं, और हर तरफ़ बहुत blood (उन companies के leftovers जिन्हे बड़े players हरा देते हैं) होता है। ऐसे environment में आप खुद को यह कह के differentiate नहीं कर सकते हैं कि मैं बाकी सबसे better हूँ। आप ये नहीं कह सकते हैं कि मेरे products बाकी सबके products से better हैं या मेरे employees better हैं क्यूंकि आपके competitors भी यही कह रहे होते हैं और consumers बहुत confuse हो जाते हैं। वो लोग उलझन में पङ जाते हैं क्योंकि वो यह नहीं समझ पाते कि कौनसा product genuinely अच्छा है और ऐसे में उनके पास कोई reason नहीं होता जिस वजह से वो आपको select करें।

Blue ocean इससे बिल्कुल different है। Blue ocean का मतलब है की इस environment में एक ऐसा market space ढ़ूँढ़ना जो कि अभी तक explore नहीं हुआ हो अगर आप ऐसे market space में बिज़नेस करते हो तो competition का कोई significance नहीं रहता है। कुछ साल पहले Uber ने हमें ये सिखाया था की Taxi business जैसे Red ocean environment में कैसे Blue ocean strategy को use करना है। Online taxi services से पहले taxi business में बहुत competitors थे। किसी के price कम थे, किसी की service दूसरों से better थी, etc। फिर Uber market में आया और उसने online taxi booking का option consumers को provide करके अपने लिए एक blue ocean create कर लिया। क्यूंकि Uber जैसी service कोई और offline providers नहीं provide कर पा रहे थे इसीलिए Uber इतनी successful company बन गयी।

Blue Ocean strategy को further explain करने के लिए मैं आपको 3 type के business models समझाता हूँ:

इनमें से पहला business type है ‘Me too Business’ ‘Me too Business’ का मतलब है कि आप खुद को market में exactly बाकी सब के जैसा place करते हैं। इसके according, consumers अगर आपको और आपके competitors को साथ में देखेंगे, तो वह कोई difference नहीं बता पाएंगे। आप अपने consumers को बाकी सब की तरह same products और services provide करते हैं।

फ़िर आता है second business type। इस business का नाम है ‘Me Better’ इसका मतलब है कि आप खुद को अपने competitors से या marketplace के दूसरे businesses से better कह के market में place करते हैं। आप अपनी team को, अपनी packaging, warranty और अपनी technology को सबसे better claim करते हैं।

तीसरा और best business type है: ‘Me only business’ इसका मतलब है कि आपका business इतना unique हो की पूरे marketplace में आप अकेले ऐसे provider हों जो कुछ अलग और useful product या service consumers को provide कर रहा हो। Blue Ocean strategy को use करने के लिए आपको ‘Me only Business’ बनना होगा।

अपने career की शुरुआत में मैने बहुत से छोटे businesses किए; जैसे कि लोगों के articles, blogs लिखना या उनके computers ठीक करना। मैने हमेशा अपने businesses को और खुद को अपने competitors से better बनाने की कोशिश की; marketing skills में better, management skills में better, services और products में better। मैंने अपना गुज़ारा करने लायक ठीक ठाक पैसा कमाया। पर जब मुझे blue ocean के बारे में पता चला, तो मैंने बहुत ज़्यादा पैसा कमाया। ‘Me only business’ technique use कर के मुझे पता चला कि सबसे profitable business वो है जो सिरग मै कर सकता हूँ। मुझे वो काम करना चाहिए जो पूरे world में मुझसे बेहतर कोई नहीं कर सकता। हम में से कोई भी एक रात में ऐसा business build नहीं कर सकता, पर हम कोशिश कर के आगे ज़रूर बढ़ सकते हैं। ज़रूरी नहीं कि आप कुछ बहुत बङा काम करें, बस कुछ ऐसा करें जिससे लोग आपको पहचान सकें। जिससे लोग कह सकें कि ये company यह काम सबसे अच्छा करती है। इस तरह से आप blue ocean apply कर के marketplace को dominate कर सकते हैं। अब यह आपके हाथ में है कि आप क्या करते हैं।

Responses

Your email address will not be published.

+