If you are going through tough times then read this.

आज सुबह जब मैं office जा रहा था तो मैंने देखा की मेरे आगे एक कार कछुए की रफ़्तार से आगे बढ़ रही थी और मेरे लगातार horn बजाने के बावजूद मुझे रास्ता नहीं दे रही थी! मेरा गुस्सा बढ़ता जा रहा था और जब मैं अपना patience खोने ही वाला था तब मैंने कार के पीछे एक छोटा सा sticker देखा, जिस पर लिखा हुआ था “Physically challenged; Please be patient.”

वह sticker देखते ही सब कुछ बदल गया! मैं तुरंत शांत हो गया और मैंने अपनी car की speed कम कर ली! यही नहीं मुझे उस कार और ड्राइवर की सुरक्षा की चिंता भी होने लगी!!! मैं उस दिन कुछ मिनट देर से काम पर पहुंचा लेकिन मुझे इस बात का बिलकुल भी बुरा नहीं लगा!

उस दिन मुझे एक बात का एहसास हुआ। अगर उस कार पर वो sticker नहीं होता तो क्या मैं उस situation में वैसे ही react करता जैसे मैंने किया? लोगों के साथ अच्छा व्यवहार करने के लिए हमें stickers की ज़रुरत क्यों है !?

क्या हम दूसरों के साथ ज़्यादा patiently और kindly behave करेंगे agar उनके सर पे stickers लगे हों

stickers जैसे की-

“मुझे नौकरी से निकाल दिया गया है”, “मैं cancer से पीड़ित हूँ”, “मेरा तलाक हो चूका है”, “मैं अपने family member को खो चूका हूँ”, “मैं financial crisis face कर रहा हूँ “

आप जब अपने घर पे अपने परिवार के साथ diwali celebrate कर रहे होते हो तब कोई अपनी diwali hospital या jail में manaa रहा होता है| जब भी आप किसी से मिलो तो इस बात का ख्याल रखो की हर इंसान एक ऐसी लड़ाई लड़ रहा है जिसके बारे में आप कुछ नहीं जानते हो। ऐसे समय में आप कम से कम इतना तो कर ही सकते हो की आप लोगों के साथ patiently और kindly behave करो!!

दीये से ना पूछो उसकी लॉ में तेल कितना है
साँसों से ना पूछो बाकी खेल अब कितना है
पूछना ही है तोह उस मुर्दे से पूछो
ज़िन्दगी में दर्द और कफ़न में सुकून कितना है
तो चलिए आज से invisible stickers की respect करें.

Responses

Your email address will not be published.

+