Life lesson to learn from Charlie Champlin

Charlie Chaplin; दुनिया के greatest comedian; एक बार Europe घूमने गए | वहां उन्होंने एक competition का ad देखा | वो ad Charlie Chaplin के जैसे दिखने वाले लोगों के लिए था | उस ad में लिखा था की आप को Charlie Chaplin जैसे dress होना है और उन की acting करनी है | charlie इस ad को देख कर बहुत excite हो गए | उन्होंने भी participate करने की सोची | competition में लगभग 500 लोगो ने हिस्सा लिया था | जब competition का result आया तब charlie हैरान हो गए क्यों की उन को 7th position मिली थी |

उस दिन charlie ने एक letter लिखा | उस letter में उन्होंने लिखा था ” We live in a world where showmen succeed and a real man fails. For a moment, even I got confused if I was the real Charlie Chaplin or the six before me. Then I realized that though the other six could copy my looks and moves, none of them could match my mind and my attitude.”

Charlie Chaplin को खुद पे विश्वास था | उन्होंने जो कुछ भी achieve किया वो अपने attitude और खुद पर अपने belief की वजह से किया | बहुत सारे लोग उस पर believe करते हैं जो दुनिया उन को बोलती है ना की उस पर जो उनका दिल बोलता है |

More than my appearance, my mind and my attitude give me my identity
– Charlie Champlin

Charlie ने कभी अपनी worth दुनिया के हिसाब से नहीं calculate की | वो जानते थे की वो कौन हैं और क्या हैं | जब हमें expected results नहीं मिलते हैं तब हम कई बार निराश हो जाते हैं | दुनिया का तो काम है judge करना और दुनिया आप को अपने अनुसार judge करेगी ना की आप के अनुसार | अगर आप एक अच्छी life जीना चाहते हो तो अपनी जिंदगी अपने अनुसार जियो | 

I could laugh at life. I loved losing more than winners enjoyed winning because I knew I was the real 
                               
                                  – Charlie Chaplin

Responses

Your email address will not be published.

+