Ten best motivational quote



ठोकरें खाता हूं मगर शान से चलता हूं,                                  इस खुले आसमान के नीचे सीना तान के चलता हूं।              मुश्किलें तो सच है जिंदगी की गिरूगा, उठूंगा ,                और अंत में मै ही जीतूंगा ये ठान के चलता हूं।

सपने उनके सच होते हैं, जिनके सपनों में जान होती है।      पंखों से कुछ नहीं होता, हौसलों से उड़ान होती है।

लोग डूबते है तो समन्दर को दोष देते है,                                मंजिले ना मिले तो मुक्कदर को दोष देते है।                          खुद तो चलते नहीं संभलकर अक्सर,                                  जब लगती है चोट तो पत्थर को दोष देते है।



धुआ बनकर पर्वतों में उड़ा करता हूं,                                    खुशबू बनकर गुलो में उड़ा करता हूं।                                      ये कैचीया खाक रोकेगी उड़ने से,                                            हम परों से नहीं हौसलों से उड़ा करता हूं।

मुश्किल राहें भी आसान हो जाती हैं,                                  अनजानी राहों पर भी पहचान हो जाती है।                            जो लोग मुस्कुराकर करते है मुश्किलों का सामना,              किस्मत खुद ब खुद उनके गुलाम हो जाती है।

क्यों डरे की जिंदगी में क्या होगा ?                                          हर वक्त क्यों सोचे कि बुरा होगा ।                                            कुछ भी ना हुआ तो क्या?                                                           तजुर्बा तो नया होगा।                                                      

जिन्दगी एक कुल्फी की तरह है,                                              या तो टेस्ट करो या तो वेस्ट करो।                                            पिघल तो रही है,                                                            इसलिए जिन्दगी को टेस्ट करना सीखो,                              वेस्ट तो वैसे भी ही हो रही है। 

जिंदगी जीना आसान नहीं होता,                                            बिना संघर्षों के कोई महान नहीं होता।                                    जब तक न पड़े हथौड़े की चोट,                                            पत्थर भी भगवान नहीं होता।

बेहतर से बेहतर तलाश करो,                                                  मिल जाए नदी तो समंदर तलाश करो।                                    टूट जाता है शीशा पत्थर की चोट से,                                    टूट जाए पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो।  

https://amzn.to/2WPdNfc

https://amzn.to/2JDytD4

रख हौसला वो मंजर भी आएगा,                                          प्यासे के पास चलकर समंदर भी आएगा ।                            थक कर ना बैठ ए मंजिल के मुसाफिर।                                मंजिल भी मिलेगी,                                                                    और मिलने का मजा भी आएगा।                                            

Responses

Your email address will not be published.

+