Why am I so Lazy?

काफी लोग मुझ से कहते हैं की मैं बहुत lazy हूँ| मुझे 12th में top करना है लेकिन मैं देर तक पढ़ नहीं पाता हूँ| मुझे AIIMS में admission चाहिए या india के किसी top enginerring college में, लकिन मैं foucs नहीं कर पा रहा हूँ| अगर तुम्हारे साथ भी ऐसा होता है या तुम्हें भी लगता है की तुम बहुत lazy हो, तो तुम्हें ये जानकार हैरानी होगी की तुम lazy नहीं हो बल्कि तुमने life में ऐसे goals set कर रखे हैं जो तुम्हे inspire नहीं करते हैं| इस में तुम्हारी कोई गलती नहीं है, बचपन से ही हम ऐसे environment में बड़े हुए हैं और हमें ऐसी सीख दी गयी हैं जिस वजह से हम अपनी life के goals किसी college degree, कोई poisition या फिर monetary terms में set कर लेते हैं| लेकिन जब हम ये सब हासिल करने के लिए मेहनत करने लगते हैं तब हमें realize होता है की life में कुछ missing है या फिर ये सब तो हमें असली में चाहिए ही नही, लेकिन जब हम ये realize करते हैं तब तक बहुत देर हो जाती है|

एक बात हमेशा याद रखना, ‘भगवान ने हर इंसान को hardware तो एक ही दिया है: दो हाथ, दो नाक, दो कान, लेकिन software सब को अलग अलग install किया है: हमारा दिमाग इसीलिए अपने goals खुद choose करो और उन्हीं चीज़ों के पीछे मत भागो जिनके पीछे पूरी दुनिया भाग रही है| खुद को जानो, नयी चीज़ें try करो और ये पता करो की तुम्हें क्या पसंद है और फिर उसी चीज़ पे मेहनत करो फिर देखो तुम्हें कभी lazyness महसूस ही नहीं होगी|

Responses

Your email address will not be published.

+